खुशखबरी: बढ़ेगी पीएम-किसान योजना की किस्त? सरकार ने दिए संकेत

PM KISAN योजना: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम किसान) योजना को लेकर केंद्र सरकार एक्शन मोड में है.

PM KISAN योजना: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम किसान) योजना को लेकर केंद्र सरकार एक्शन मोड में है. दरअसल, सरकार ने कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के तहत पीएम किसान योजना का मूल्यांकन करने की योजना बनाई है. नीति आयोग से जुड़े विकास निगरानी और मूल्यांकन कार्यालय (डीएमईओ) ने योजना के मूल्यांकन के लिए निविदाएं आमंत्रित की हैं। हम आपको बता दें कि इस योजना से सरकारी खजाने पर हर साल 60,000 करोड़ रुपये का बोझ पड़ता है.

इस लिस्ट में जिन का नाम है उनको ही मिलेगा लाभ, अगले साल की नई लिस्ट जारी,

यहाँ से लिस्ट में अपना नाम चेक करें

प्रयोजन क्या है?
इकोनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने कहा कि योजना का उद्देश्य यह आकलन करना है कि किसानों की वित्तीय जरूरतें किस हद तक पूरी हुई हैं. इसके साथ ही कृषि आय पर इसका कितना असर पड़ा है? यह भी समझना होगा कि क्या प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (डीबीटी) किसानों के लिए एक आदर्श दृष्टिकोण है। अधिकारी ने कहा- योजनाओं की मूल्यांकन अवधि छह माह होगी. योजना के मूल्यांकन में शीर्ष 17 राज्यों सहित 24 राज्यों के कम से कम 5000 किसानों को शामिल किया जाएगा। वहीं, लगभग 95% पीएम किसान लाभार्थी हैं। 2022-23 में इस योजना के कुल 10 करोड़ 71 लाख लाभार्थी थे.

Small Business Idea : यह बढीया बिजनेस आपकों मालमाल कर सकता हैं,

ये बिजनेस आइडिया कभी फेल नहीं होगा

योजना के बारे में
पीएम किसान एक केंद्रीय डीबीटी योजना है जिसके तहत देश भर के सभी भूमि मालिक किसान परिवारों को प्रति वर्ष 6000 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है। यह रकम 2000 रुपये की तीन किस्तों में ट्रांसफर की जाती है. सरकार ने 2024-25 में इस योजना के लिए 60,000 करोड़ रुपये रखे हैं, जो पिछले वित्त वर्ष के बजट और संशोधित अनुमान के अनुरूप है।

नया पिकविमा अपडेट 75% पिकविमा वितरण शुरू, क्या आपका जिला है?

सूची में नाम जांचें.