Startup Story

SBI Pashu Palan Loan : इस योजना के तहत यह बैंक देगा प्रति पशु 60 हजार रुपये का लोन, यहां से करें ऑनलाइन आवेदन

SBI Pashu Palan Loan : भारत मुख्यतः कृषि प्रधान अर्थव्यवस्था है। कई लोगों के लिए कृषि शब्द का अर्थ केवल खेत में काम करना और फसल उगाना है। यह कृषि शब्द का एक सीमित अर्थ है। वास्तव में, कृषि शब्द में कई अन्य धाराएँ और खंड शामिल हैं।

पशुपालन लोन आपको बता दें कि भारतीय स्टेट बैंक किसानों को उनके पास मौजूद पशुओं की संख्या के आधार पर पशुपालन के लिए लोन मुहैया कराता है। जिसके तहत किसानों को प्रति पशु 40 हजार रुपये से 60 हजार रुपये तक का ऋण दिया जाता है ताकि वे अपने पशुपालन व्यवसाय का विस्तार कर सकें। कोई भी किसान पशुपालन के लिए भारतीय स्टेट बैंक से ऋण ले सकता है, किसान को बैंक द्वारा निर्धारित पात्रता और आवश्यक दस्तावेज पूरे करने होंगे। SBI Pashu Palan Loan

कृषि का एक प्रमुख क्षेत्र पशुपालन है। पशुपालन से तात्पर्य पशुधन के पालन-पोषण और चयनात्मक प्रजनन से है। किसान, इस मामले में, जानवरों की देखभाल करने वाला व्यक्ति दूध, मांस, अंडे, ऊन, खाल की आपूर्ति के लिए खेत के जानवरों का उपयोग करता है।

SBI Pashu Palan Loanके लिए पात्रता क्या है?

पशुपालन ऋण ऋणदाताओं और भारत सरकार द्वारा प्रदान किए गए कृषि ऋण और योजनाओं का हिस्सा हैं। ये ऋण इस श्रेणी के अंतर्गत एक लोकप्रिय ऋण खंड हैं और इनका उपयोग देश भर में कई किसानों द्वारा एक स्थिर पेशा सुनिश्चित करने के लिए किया जाता है।

  • किसानों डेयरी/पोल्ट्री किसान
  • व्यक्तिगत या संयुक्त उधारकर्ता (किरायेदार किसानों सहित)
  • संयुक्त देयता समूह (जेएलजी)
  • स्वयं सहायता समूह (एसएचजी)
  • निजी कंपनियां
  • एमएसएमई किसान
  • उत्पादक संगठन

पशुपालन ऋण के लिए आवश्यक दस्तावेज :

Identity प्रूफ: आवेदक पहचान प्रमाण के रूप में निम्नलिखित में से कोई भी दस्तावेज जमा कर सकता है

  • आधार कार्ड
  • मतदाता कार्ड,
  • राशन पत्रिका,
  • पैन कार्ड इत्यादि।

निवास प्रमाण पत्र निम्नलिखित दस्तावेजों का उपयोग पते के प्रमाण के रूप में किया जा सकता है।

  • आधार कार्ड
  • राशन पत्रिका
  • उपयोगिता बिल
  • बैंक विवरण
  • विक्रय कर प्रमाणपत्र
  • व्यापार लाइसेंस आदि।

आयु प्रमाण आवेदक आयु प्रमाण के रूप में निम्नलिखित में से कोई भी दस्तावेज जमा कर सकते हैं

  • पासपोर्ट पैन
  • कार्ड आधार कार्ड इत्यादि।

आय प्रमाण उधारकर्ता की पुनर्भुगतान क्षमता की जांच करने और ऋणदाता के हितों की सुरक्षा के लिए आय प्रमाण की आवश्यकता होती है। उधारकर्ता आय प्रमाण के भाग के रूप में निम्नलिखित में से कोई भी दस्तावेज़ प्रदान कर सकते हैं

  • पिछले 2 वर्षों का आईटीआर
  • बैंक विवरण

पशुपालन के लीये सरकार द्वारा बनाइ गयी लोन स्कीम :

  • Rashtriya Gokul Mission
  • National Kamdhenu Breeding Centre
  • Special Package for Idukki District of Kerala
  • Centrally Sponsored Scheme Livestock Health Disease Control During 2013-14
  • Dairy Entrepreneurship Development Scheme
  • Livestock Insurance Scheme
  • Farmers Training Programme
  • Fodder Development Scheme
  • Kendriya Bhed Palak Bima Yojane
  • Milk Incentives to Milk Producers

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles